May 28, 2023 1:11 pm

Advertisements

पच्छाद कांग्रेस ने लगभग तीन दर्जन बागी नेताओं पर की अनुशासनात्मक कार्यवाही, पार्टी से निष्कासन की तैयारी

♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

Samachar Drishti

Samachar Drishti

ब्लाक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष जय प्रकाश की अध्यक्षता में शीर्ष नेतृत्व को भेजा प्रस्ताव

समाचार दृष्टि ब्यूरो

ब्लोक कांग्रेस पच्छाद ने विधानसभा सभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी के विरुद्ध कार्य करने वाले नेताओं पर अनुशासनात्मक डंडा चलाना शुरू कर दिया है। ब्लाक कांग्रेस कमेटी पच्छाद की एक बेठक मंडल अध्यक्ष जय प्रकाश की अध्यक्षता मे संपन हुई जिसमे लगभग 3 दर्जन से अधिक बागी नेताओं को पार्टी से निष्कासित करने का प्रस्ताव पास किया है जिसे प्रदेश हाई कमान को भेज दिया है। बता दें कि मंडल ने पार्टी प्रत्याशी दयाल प्यारी व कार्यकर्ताओं से सलाह के बाद यह अहम निर्णय लिया है।

ब्लोक कांग्रेस पच्छाद द्वारा प्रदेश हाई कमान को भेजे प्रस्ताव में मंडल ने कहा है की वर्तमान में संजीव शर्मा, पंकज मुसाफिर, बेलीराम शर्मा, परीक्षा चौहान, दिनेश आर्या, ऊषा तोमर, वीरेन्द्र झालटा , राजकुमार ठाकुर, विवेक शर्मा, आशा प्रकाश, अजय चौहान, सुनील शर्मा (थुनू), हरिदास बनोल्टा, दैवेद्र शास्त्री, इंद्रा कश्यप, मोनी ठाकुर, सदानंद, सूर्यकांत सेवल, विनय भगनाल, कमल रपटा, जाति राम कमल, यश पाल ठाकुर (चिंटू), धर्मेंद्र वर्मा, जितेंद्र ठाकुर, मनोज ठाकुर, पूर्ण ठाकुर, चतर सिंह, सुधीर ठाकुर, राजेश ठाकुर, ज्ञान गोतम, जगदीश दत्त, रॉन दत्त्, हरी दत्त, कुंदन सिंह, सज्जन सिंह, धर्म सिंह व सुनील कुमार ने इस चुनाव विधान सभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार के खिलाफ कार्य किया है और इन्होंने साजिश रचकर पार्टी प्रत्याशी को हराने के लिए कार्य किया। इन्हें पार्टी से निष्कासित किया जाए।

पच्छाद कांग्रेस मंडल के पूर्व मिडिया प्रभारी सुधीर ठाकुर ने बताया की विधानसभा चुनाव में पार्टी ने दयाल प्यारी को पच्छाद से प्रत्याशी बनाया था लेकिन इन लोगों ने आजाद चुनाव लड़े पूर्व विधायक जीआर मुसाफिर के समर्थन में खुलकर प्रचार प्रसार किया। इससे जहां मुसाफिर की हार हुई वहीं इन बागी नेताओं की बदौलत पार्टी प्रत्याशी दयाल प्यारी भी चुनाव हार गई।

मंडल अध्यक्ष जय प्रकाश चौहन ने बताया की यदि इस चुनाव में जीआर मुसाफिर पार्टी की अधिकृत प्रत्याशी दयाल प्यारी का साथ देते तो वह बड़े मार्जन के साथ जीत दर्ज करती। लेकिन मुसाफिर की पूरी टीम ने कांग्रेस पार्टी के साथ भीतर घात करके दयाल प्यारी को हराने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने बताया कि मंडल की बैठक में निर्णय लिया गया कि चुनाव में भीतरघात करने वाले इन कांग्रेस कार्यकार्यताओ को 6 वर्षो के लिए पार्टी से निष्कासित किया जाए जिससे यह लोग भविष्य में कांग्रेस पार्टी को नुकसान न पहुंचा सकें।

गौर हो कि मंडल ने तीन दर्जन से अधिक नेताओं के निष्कासन का मामला उठाया है। मंडल अध्यक्ष जय प्रकाश चौहन ने बताया की उपरोक्त सभी को कांग्रेस पार्टी से छंह साल के लिए निष्काषित किया जाए।

वही पार्टी के जिला अध्यक्ष आनंद परमार ने बताया कि शीर्ष नेतृत्व को उपरोक्त कार्यकर्ताओ द्वारा पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त होने को लेकर उनके पार्टी से निष्कासन के लिये मंडल द्वारा सिपारिश की गई है जो कि शीर्ष नेतृत्व को भेज दी गई है।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button

Facebook
Twitter
WhatsApp
Telegram
LinkedIn
Email
Print

जवाब जरूर दे

देश में अगली सरकार किसकी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisements

Live cricket updates