April 24, 2024 1:44 am

Advertisements

जी-20 शिखर सम्मेलन अपने मूल एजेंडा और परिणामों के मामले में इतिहास का सबसे महत्वाकांक्षी व सफल सम्मेलन : डॉ सिकंदर

♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

Samachar Drishti

Samachar Drishti

जी-20 शिखर सम्मेलन में कुल 112 परिणाम दस्तावेज व अध्यक्षीय दस्तावेज तैयार किए गए
चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के जवाब में भारत को जी-20 में मिली बड़ी कामयाबी

समाचार दृष्टि ब्यूरो/शिमला

भाजपा जिला शिमला की नवनियुक्त कार्यकारणी की परिचय बैठक का आयोजन दीप कमल चक्कर शिमला में जिला अध्यक्ष प्रेम ठाकुर की अध्यक्षता में किया गया। जिला अध्यक्ष प्रेम ठाकुर ने कार्यक्रम मेरी माटी मेरा देश के बारे में विस्तृत जानकारी कार्यकर्ताओं के समक्ष रखी। कार्यकर्ताओं को आगामी कार्यक्रमों के बारे में भी पूर्ण रूप से अवगत करवाया गया। इस बैठक में सभी जिला के पदाधिकारी और कार्यसमिति सदस्यों ने अपना परिचय रखा।

भाजपा प्रदेश महामंत्री डॉ सिकंदर कुमार ने कहा भारत की अध्यक्षता में जी-20 शिखर सम्मेलन अपने मूल एजेंडा और परिणामों के मामले में इतिहास का सबसे महत्वाकांक्षी व सफल सम्मेलन साबति हुआ है। इसमें कुल 112 परिणाम दस्तावेज व अध्यक्षीय दस्तावेज तैयार किए गए। पिछले सम्मेलन से तुलना करें, तो यह दोगुने से भी ज्यादा है। इसी वजह से इसे अब तक का सबसे सफल सम्मेलन माना जा रहा है। इनमें 73 परिणाम दस्तावेज यानी आउटकम डॉक्यूमेंट्स हैं, जो सदस्य देशों के मंत्रियों की ओर से बीते महीनों में देश के विभिन्न शहरों में हई बैठकों में बनी सहमति पर तैयार हुए हैं। इन्हें लाइन ऑफ एफर्ट दस्तावेज भी कहते हैं। वहीं, 39 संलग्न दस्तावेज हैं, जिन्हें कार्य समूह के दस्तावेजों से अलग अध्यक्षीय दस्तावेज कहा जाता है।

चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के जवाब में भारत को जी-20 में बड़ी कामयाबी मिली है। भारत, पश्चिम एशिया और यूरोप के बीच संपर्क गलियारे को जल्द लॉन्च किया जाएगा। सूत्रों ने बताया कि भारत, संयुक्त अरब अमीरात, सऊदी अरब, फ्रांस, इटली, जर्मनी व यूरोपीय संघ के अन्य देशों और अमेरिका को शामिल करते हुए इस संपर्क गलियारे और बुनियादी ढांचे पर सहयोग की यह ऐतिहासिक पहल होगी। उन्होंने कहा की स्वच्छ ईंधन का उपयोग बढ़ाने के लिए सम्मेलन में भारत ने वैश्विक जैव ईंधन गठबंधन के आगाज की घोषणा की। साथ ही, वैश्विक स्तर पर पेट्रोल के साथ एथनॉल मिश्रण को बढ़ाकर 20 फीसदी तक करने की अपील के साथ सदस्य देशों से इस पहल में शामिल होने का आग्रह किया। उन्होंने बताया की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सम्मेलन की शुरुआत करते हुए कहा कि कोविड महामारी के बाद परस्पर विश्वास में आई कमी को यूक्रेन युद्ध ने और गहरा कर दिया है। इस कमी को पूरा कर हमें फिर से एक-दूसरे पर भरोसा कायम करना होगा। वैश्विक भलाई के लिए यह वक्त हम सबके लिए एकसाथ चलने का है।
अगर वास्तव में देखा जाए तो भारत विश्व गुरु की भूमिका में काम कर रहा है।

बैठक में सभी कार्यकर्ताओं को प्रदेश संगठन महामंत्री सिद्धार्थन का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ।

बैठक में राज्यसभा सांसद एवं प्रदेश महामंत्री डॉ सिकंदर कुमार, प्रदेश संगठन महामंत्री सिद्धार्थन, सुरेश भारद्वाज, संजय सूद, रवि मेहता, अक्षय भरमौरी, संजय ठाकुर, कर्ण नंदा, कमलजीत सूद, आरडी कश्यप, विजय परमार, महामंत्री राजीव पंडित, प्रेम चौहान, जिला उपाध्यक्ष, सचिव, कोषाध्यक्ष, शिमला जिला के तीनों मंडलों के अध्यक्ष और महामंत्री मोहन सिंह, प्यार सिंह, प्रमोद ठाकुर,किरण बावा, सपना कश्यप विशेष रूप में उपस्थित रहें।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button

Facebook
Twitter
WhatsApp
Telegram
LinkedIn
Email
Print

जवाब जरूर दे

देश में अगली सरकार किसकी
  • Add your answer

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisements

Live cricket updates