May 20, 2024 8:55 am

Advertisements

उपमण्डल पांवटा साहिब के सिरमौरी ताल में बादल फटने से मलबे में दबे पांच लोग

♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

Samachar Drishti

Samachar Drishti

सिरमौरी ताल में बादल फटने से मलबे में दबे पांच में से दो के शव निकाले गए, तीन की तलाश जारी

उपायुक्त सुमित खिमटा राहत व बचाव के लिए स्वयं डटे रहे मोर्चे पर

एक मकान पूरी तरह हो गया जमींदोज, एक ही परिवार के पांच लोग दबे

समाचार दृष्टि ब्यूरो/नाहन

सिरमौर जिला के पांवटा साहिब उपमण्डल की ग्राम पंचायत मुगलावाला के सिरमौरी ताल के लिये बुधवार की रात काली रात बनकर आई। सिरमौरी ताल में बादल फटने से चारों ओर तबाही का मंजर नजर आ रहा है। गांव में बादल फटने से आई भयंकर बाढ़ की जद में एक मकान पूरी तरह जमींदोज हो गया और इसमें एक ही परिवार के पांच लोग दब गए।

उपायुक्त सुमित खिमटा घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक रमण कुमार मीणा तथा बचाव दल सहित मौके लिये रवाना हो गए और राहत व बचाव कार्यों के लिये लगातार मोर्चे पर डटे हुए हैं। हालांकि स्थानीय प्रशासन बचाव दल सहित रात को ही मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य में जुट गया। उन्होंने बताया कि बाढ़ में लापता लोगों में कुलदीप सिंह 63 साल, उनकी पत्नी जीतो देवी 57 साल, विनोद कुमार की पत्नी रजनी 31 साल व पुत्र नितेश 10 साल तथा 8 वर्षीय पुत्री दीपिका शामिल हैं। इनमें से कुलदीप सिंह व उनकी पोती दीपिका के शवों को मशक्त के बाद बचाव दलों द्वारा निकाला गया है। खबर लिखने तक शेष लापता व्यक्तियों की तलाश का कार्य जारी है। उपायुक्त ने कहा कि आज दिनभर बारिश के बीच लापता लोगों को खोजने के अभियान में किसी प्रकार की कमी नहीं रही। कल प्रातः पुनः लापता लोगों को खोजने का कार्य जल्द शुरू किया जाएगा।

उपायुक्त ने कहा कि लापता लोगों को तलाशने के लिये आवश्यक मशीनरी काम में लगी है। उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर एनडीआरएफ की सेवाएं भी ली जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन ने स्थानीय लोगों के सहयोग से सात परिवारों के लगभग 50 लोगों को उनके घरों में मलबे केे बीच से निकालकर बचाया। उन्होंने कहा कि मलबा राष्ट्रीय राजमार्ग 707 पर आ जाने से सड़क का बड़ा भाग अवरूद्ध हो गया है। मार्ग को बहाल करने के लिये भी उपायुक्त ने संबंधित विभाग को आवश्यक निर्देश दिये हैं।

पूर्व विधायक किरणेश जंग घटना स्थल पर पहुंचे और राहत व बचाव कार्र्यों में अपना सहयोग किया। उन्होंने कहा कि लोगों की जान इस प्रकार से जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने जिस प्रकार से प्रदेश के अन्य भागों में आपदा के दौरान लोगों को राहत प्रदान करने का काम किया है, वह सिरमौरी ताल के लिये भी हर संभव सहायता प्रदान करेंगे। वह प्रभावित परिवारों को मिले, उन्हें सांत्वना दी तथा प्रदेश सरकार की ओर से जल्द हर संभव सहायता का आश्वासन दिया।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button

Facebook
Twitter
WhatsApp
Telegram
LinkedIn
Email
Print

जवाब जरूर दे

[democracy id="2"]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisements

Live cricket updates