December 1, 2022 3:31 pm

Advertisements
Traffic Tail

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एम्स बिलासपुर देश को किया समर्पित

♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

Samachar Drishti

Samachar Drishti

प्रधानमन्त्री ने 140 करोड़ रुपये के हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज का उद्घाटन भी किया

प्रधानमन्त्री ने 350 करोड़ के मेडिकल डिवाइस पार्क और 1692 करोड़ के पिंजौर-नालागढ़ हाईवे की आधारशिला रखी

मुख्यमंत्री ठाकुर जयराम ने 3653 करोड़ रुपये की परियोजनाओं के उदघाटन-शिलान्यास के लिए प्रधानमंत्री का धन्यवाद किया

कोरोना महामारी की चुनौतियों के बावजूद रिकॉर्ड समय में बना एम्स: जगत प्रकाश नड्डा

समाचार दृष्टि ब्यूरो/शिमला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बिलासपुर जिले के कोठीपुरा में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का उद्घाटन किया। लगभग 247 एकड़ क्षेत्र में करीब 1471 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 750 बिस्तरों वाले इस संस्थान में प्रदेशवासियों को अत्याधुनिक एवं सुपर स्पेशियलिटी चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

प्रधानमंत्री ने 140 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सरकारी हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज बंदला, बिलासपुर का उदघाटन भी किया। नालागढ़ में 350 करोड़ रुपये के मेडिकल डिवाइस पार्क और भारतमाला परियोजना के तहत 1692 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली पिंजौर-नालागढ़ फोरलेन राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजना का शिलान्यास भी किया।

उन्होंने कहा कि बिलासपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान को ‘ग्रीन एम्स’ के रूप में जाना जाएगा, क्योंकि इसका निर्माण ईको-फ्रेंडली शैली में किया गया है। नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह संस्थान लोगों को अपने प्रदेश में ही सस्ती और अत्याधुनिक सुपर स्पेशियलिटी सेवाएं उपलब्ध करवाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पिछले आठ वर्षों के दौरान देश के सुदूर हिस्सों तक विकासात्मक परियोजनाओं का लाभ पहुंचाना सुनिश्चित किया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने राष्ट्र की सीमाओं की रक्षा में हमेशा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और अब बिलासपुर का एम्स हिमाचल को ‘जीवन रक्षा’ के लिए एक महत्वपूर्ण गंतव्य के रूप में विकसित करने में बड़ी भूमिका अदा करेगा। नरेंद्र मोदी ने कहा कि बल्क ड्रग्स पार्क की स्थापना के लिए चुने गए देश के तीन राज्यों में हिमाचल प्रदेश को भी शामिल किया गया है। इसी प्रकार मेडिकल डिवाइस पार्क के निर्माण के लिए चयनित चार राज्यों में भी हिमाचल प्रदेश को स्थान दिया गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इन बड़ी परियोजनाओं का श्रेय केंद्र सरकार के प्रति हिमाचल के लोगों की आस्था और समर्थन को जाता है। उन्होंने कहा कि चिकित्सा पर्यटन एक ऐसा असीम संभावनाओं वाला क्षेत्र है, जिसे हिमाचल में बढ़ावा देने की आवश्यकता है, ताकि दुनिया भर से उपचार एवं स्वास्थ्य लाभ के लिए भारत आने वाले लोग सुंदर और स्वच्छ वातावरण वातावरण वाले हिमाचल प्रदेश का भी दौरा कर सकें।

प्रधानमंत्री ने राज्य सरकार द्वारा कोरोना रोधी टीकाकरण अभियान और जल जीवन मिशन के प्रभावी क्रियान्वयन में किए गए अच्छे कार्यों की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा लोगों को प्रदान किया गया सामाजिक सुरक्षा कवर भी प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश असीम अवसरों की भूमि है।

इससे पहले, एम्स हेलीपैड पहुंचने पर राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण, युवा मामले एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर और हिमाचल प्रदेश मंत्रिमंडल के सदस्यों ने प्रधानमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया।
प्रधानमंत्री ने एम्स के अस्पताल ब्लॉक, सीटी स्कैन सेंटर, एमरजेंसी और ट्रॉमा एरिया का जायजा लिया। एम्स के अधिकारियों ने प्रधानमंत्री के समक्ष संस्थान के थ्रीडी मॉडल का प्रदर्शन भी किया।

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने देवभूमि हिमाचल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करते हुए कहा कि हिमाचल के प्रति स्नेह और परोपकार के लिए प्रदेश की जनता हमेशा प्रधानमंत्री की ऋणी रहेगी। उन्होंने कहा कि केवल 70 लाख आबादी वाले हिमाचल प्रदेश जैसे छोटे राज्य को एम्स जैसा प्रतिष्ठित संस्थान प्रदान करना, हिमाचल के विकास और यहां के लोगों के कल्याण के प्रति प्रधानमंत्री की संवेदनशीलता को दर्शाता है। उन्होंने दशहरा उत्सव पर हिमाचल के लिए 3653 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को समर्पित एवं शिलान्यास करने के लिए प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने हिमाचल और यहां के लोगों की विकासात्मक जरूरतों और आकांक्षाओं के प्रति हमेशा चिंतित रहने के लिए प्रधानमंत्री का धन्यवाद दिया।

जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करने वाली है और इस अवधि में सरकार ने विकास के सभी क्षेत्रों में राज्य की प्रगति सुनिश्चित की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की इस विकास यात्रा के दौरान केंद्र सरकार ने हर संभव सहायता और सहयोग प्रदान किया। उन्होंने कहा कि इस अवधि के दौरान प्रधानमंत्री द्वारा राज्य के लिए 10,000 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं को मंजूरी दी गई। इन परियोजनाओं से राज्य के विकास को गति मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने राज्य के लिए बल्क ड्रग फार्मा पार्क स्वीकृत करने के लिए भी प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह पार्क ऊना जिले के हरोली में 1405 एकड़ से अधिक क्षेत्र में स्थापित किया जाएगा और हिमाचल के लोगों के लिए यह एक गेम चेंजर साबित होगा। उन्होंने कहा कि इस पार्क में लगभग 50,000 करोड़ रुपये का निवेश होगा और इसमें 30,000 से अधिक लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस परियोजना की 90 प्रतिशत लागत केंद्र सरकार वहन करेगी, जिसकी अधिकतम सीमा 1000 करोड़ रुपये है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि दिल्ली के बाहर एम्स की स्थापना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का एक सपना था क्योंकि वर्ष 1960 में दिल्ली में पहले एम्स की स्थापना की गई थी। उन्होंने कहा कि बिलासपुर में इस संस्थान की आधारशिला प्रधानमंत्री द्वारा लगभग चार वर्ष पूर्व रखी गई थी। उन्होंने कहा कि महामारी के बावजूद यह महत्वाकांक्षी परियोजना रिकॉर्ड समय में पूरी की गई। बिलासपुर के बंदला में हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज भी प्रदेश के लिए प्रधानमंत्री का एक बड़ा उपहार है।

उन्होंने कहा कि कोल बांध परियोजना भी अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में शुरू की गई थी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राज्य को समर्पित की गई। केंद्र में भाजपा के सत्ता में आने के उपरांत ही लुहरी परियोजना पर भी कार्य शुरू हो सका। उन्होंने कहा कि अटल टनल भी राज्य की जनता के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ही देन है। उन्होंने कहा कि इस टनल के बनने से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का सपना पूरा हुआ है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने हमेशा राज्य के हितों की अनदेखी की, वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश के विशेष राज्य के दर्जे को पुनः बहाल किया।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय परियोजनाओं के लिए केंद्र-राज्य के हिस्से में 90ः10 का अनुपात भी भाजपा के कार्यकाल के दौरान ही बहाल किया गया। प्रधानमंत्री द्वारा सिरमौर जिला के हाटी समुदाय को भी जनजातीय दर्जा दिया गया और इससे हाटी समुदाय के लोगों की चिरलंबित मांग पूरी हुई है। उन्होंने सरकार के साथ-साथ संगठन में राज्य को पर्याप्त प्रतिनिधित्व देने तथा आम हिमाचली को भी सशक्त बनाने के लिए प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया।

सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने विजयदशमी के पावन अवसर पर देवभूमि हिमाचल में प्रधानमंत्री का स्वागत करते हुए राज्य के लिए करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं को समर्पित करने के लिए उनका धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश सौभाग्यशाली रहा है कि राज्य को हमेशा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विशेष स्नेह और उदारता मिली है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के मजबूत नेतृत्व से ही भारत आज विश्व गुरु के रूप में उभर रहा है। महामारी के दौरान देश के लोगों को 200 करोड़ से अधिक वैक्सीन की खुराक निःशुल्क देने, 80 करोड़ लोगों को 28 महीने तक मुफ्त राशन देना तथा किसानों को 6000 रुपये प्रति वर्ष की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि प्रदान करना नरेंद्र मोदी के गतिशील नेतृत्व के कारण ही संभव हुआ।

राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष एवं सांसद सुरेश कश्यप, सांसद किशन कपूर, इंदु गोस्वामी और प्रोफेसर सिकन्दर कुमार ने प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा किया जबकि मंत्रिमंडल के सदस्य, विधायक, विभिन्न बोर्डों और निगमों के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष, मुख्य सचिव आर.डी. धीमान, पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू, प्रधान सचिव भरत खेड़ा और सुभासीष पन्डा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button

Facebook
Twitter
WhatsApp
Telegram
LinkedIn
Email
Print

जवाब जरूर दे

चुनाव 22- हिमाचल में किसकी बनेगी सरकार
  • Add your answer

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisements
Traffic Tail

Live cricket updates